हनुमान जी का एक ऐसा मंदिर जहाँ जुड़ जाती हैं टूटी हड्डियाँ

मध्य प्रदेश के कटनी शहर के पास भगवान हनुमान जी का एक अद्भुत मंदिर है. जिस मर्ज का इलाज डॉक्टर नहीं कर सकते, वहाँ यह मंदिर चमत्कार करता है. दरअसल, हड्डी टूटने के बाद भक्त भगवान का प्रसाद खाने आते हैं.

  • 1230
  • 0

देश में कई ऐसे मंदिर हैं जो अपने अनोखे करतबों के कारण प्रसिद्ध हैं. देश के करोड़ों लोगों की उन पर आस्था है और ऐसे कई चमत्कार भी हुए हैं. ऐसे ही एक मंदिर के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं. मध्य प्रदेश के कटनी शहर के पास भगवान हनुमान जी का एक अद्भुत मंदिर है. जिस मर्ज का इलाज डॉक्टर नहीं कर सकते, वहाँ यह मंदिर चमत्कार करता है. दरअसल, हड्डी टूटने के बाद भक्त भगवान का प्रसाद खाने आते हैं, भगवान का प्रसाद खाने के बाद टूटी हुई हड्डी अपने आप जुड़ जाती है. यहां कई ऐसे लोग हैं जिनका यहां सफलतापूर्वक इलाज किया गया है.

प्रसिद्ध मंदिर

कटनी जिला मुख्यालय से लगभग 35 किमी दूर मोहस गांव में हनुमान जी का प्रसिद्ध मंदिर है. यहां कई लोग स्ट्रेचर पर आते हैं और सही हो कर जाते हैं. मंगलवार और शनिवार को मंदिर में विशेष पूजा के दिन होते हैं. लोगों को एक विशेष पूजा समारोह में शामिल किया जाता है. मंदिर परिसर में पीड़ित की आंखें बंद करके राम नाम का जाप करने की सलाह दी जाती है. इसके बाद मंदिर के पुजारी प्रत्येक व्यक्ति को प्रसाद के रूप में दवा खिलाते हैं. वे जड़ी बूटियों से बने होते हैं और प्राकृतिक औषधि की तरह होते हैं.


Also Read : Rashifal: इन जातकों को सतर्क रहने की है जरूरत, जानिए मेष से मीन तक का हाल


पीड़ित को इसे चबाकर खाने के लिए कहा जाता है. इसके बाद उन्हें अपने घर जाने के लिए कहा जाता है. हनुमानजी के आशीर्वाद और दवाओं के प्रभाव से पीड़ित ठीक हो जाते हैं. कई सालों से इस मंदिर में हड्डी टूटने के बाद इसी तरह से व्यवहार किया जाता रहा है. हनुमान जी के मंदिर में भक्तों का नि:शुल्क इलाज किया जाता है. यहां सिर्फ पीड़ितों को ही आना होता है. कई भक्त मंदिर के दान पेटी में अपनी आस्था का दान करते हैं. कैसे पहुंचा जाये- मध्य प्रदेश के कटनी जिला मुख्यालय के लिए एक रेल मार्ग है, यहाँ रेल द्वारा पहुँचा जा सकता है. बसें भी चलती हैं. इसके बाद निजी वाहन या बस सुविधा से कटनी से मोहस गांव स्थित हनुमान मंदिर के दर्शन के लिए जा सकते हैं.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT