Himachal Pradesh: JCB लेकर दुल्हन लेने पहुंचा दूल्हा, बर्फबारी के कारण बंद हुई सड़के

शादियों का सीजन शुरु हो चुका है. ऐसे में सब जगह शादियों की शहनाई बजती हुई जर आ रही है. वहीं आमतौर पर दूल्हा घोड़ी पर बैठकर अपनी दुल्हन को लेने जाता है, लेकिन हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में एक अनोखी बारात देखने को मिली. जहां दूल्हा अपनी दुल्हन को रथ या क

  • 1088
  • 0

शादियों का सीजन शुरु हो चुका है. ऐसे में सब जगह शादियों की शहनाई बजती हुई जर आ रही है. वहीं आमतौर पर दूल्हा घोड़ी पर बैठकर अपनी दुल्हन को लेने जाता है, लेकिन हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले में एक अनोखी बारात देखने को मिली. जहां दूल्हा अपनी दुल्हन को रथ या कार में नहीं बल्कि जेसीबी में लेकर आया. दरअसल, हिमाचल में पिछले दो दिनों से हो रही बर्फबारी के चलते सभी रास्ते बंद हैं, ऐसे में दूल्हे को यह कदम उठाना पड़ा.

ये भी पढ़ें:- पहाड़ी सड़क पर ड्राइवर ने कुछ इस तरह लिया कार को यू-टर्न, लोगों के उड़े होश

बारात जावगा से सिरमौर जिले के संगरा डिग्री कॉलेज से सटे सौंफर गांव की ओर जा रही थी. हालांकि, संग्राह से 8 किमी आगे बर्फबारी के कारण बंद हुई सड़क को बहाल करने के प्रयास किए गए, लेकिन सफलता नहीं मिली. ऐसे में दूल्हा-दुल्हन जेसीबी से सौंफर गांव पहुंचे. सोमवार की सुबह वह सभी रस्में पूरी कर घर लौटा. आपको बता दें कि अनुमंडल संगरा के ऊपरी हिस्सों में शनिवार से बर्फबारी जारी है और करीब 2 से 3 फीट बर्फ गिरने से डेढ़ दर्जन पंचायतों में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है. बर्फबारी क्षेत्र के संगरा-चौपाल, हरिपुरधर-नौहराधर, संगरा-गट्टाधर और नौहराधार-संगाधार मार्ग पर सोमवार को तीसरे दिन भी यातायात व्यवस्था ठप रही.

ये भी पढ़ें:- देश में कल से घटे कोरोना केस, 24 घंटे में सामने आए 3.06 लाख नए मामले

पीडब्ल्यूडी मंडल संगम में एक भी स्नोकटर नहीं है और जेसीबी से बर्फ साफ करने में ज्यादा समय लगता है. इन सड़कों के बंद होने से करीब 150 वाहन जगह-जगह फंस गए हैं, जिसमें दो दर्जन पर्यटकों को हिमपात देखने की बात कही जा रही है. लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता रतन शर्मा ने बताया कि बर्फ हटाने के लिए 8 जेसीबी मशीनों की व्यवस्था की गई है.

RELATED ARTICLE

LEAVE A REPLY

POST COMMENT